Recipes

दही वड़ा कैसे बनाये

दही बड़ा  (Dahi Vada)

दही वड़ा (dahi vada) उत्तर भारत का पसंदीदा व्यंजन   है। यह खट्टा और तीखा स्वाद में होता है। दही वड़ा (dahi vada) बेहद स्वादिष्ट लगता है।

यह त्योहारों और विशेष अवसरों  उत्तर भारत में बनाया जाता है खाशकर दसहरा, होली में सभी घरो में बनता है दही वड़ा (dahi vada) में तरह-तरह की दाल इस्तेमाल होती है। लेकिन उड़द की दाल के नरम दही वड़े सबसे ज्यादा पसंद किए जाते हैं

आवश्यक सामग्री (Ingredients For Dahi Vada):

उड़द की दाल :  250 ग्राम बिना छिलके की
दही : ग्राम 500
तेल : 250 ग्राम
भुना जीरा : 1 चम्मच
काला नमक: 1 चम्मच
लाल मिर्च पिसी: 1 चम्मच

हरा धनिया: 1 चम्मच बारीक़ कटा हुआ

गोलोकी और जीरा : आधा दारा (पिसा) 1 चम्मच

लाल मीठी चटनी : 1 चम्मच

OLYMPUS DIGITAL CAMERA

विधि( How To Make Dahi Vada) दही वड़ा कैसे बनाएं
सबसे पहले छिली हुई उड़द की दाल को रात भर पानी में भिगो देंगे  सुबह दाल को पानी से निकालकर फिर अच्छे साफ पानी से धो ले

मिक्सर मे करीब एक चम्मच नमक डाल दीजिए, थोडा सा पानी डाल कर मिक्सर में महीन पीस कर पेस्ट बना ले नमक पहले डाल देंगे तो सूखे वड़े भी अच्छे लगेंगे। वैसे पारंपरिक तौर पर नमक दही में मिलाया जाता है, पेस्ट को बड़ी वर्तन में निकाल कर अच्छी तरह से मिला ले

एक कटोरी पानी में आधा चम्मच पिसी हुई दाल को डालकर देखिए कि ये अच्छी तरह फेंटी है या नहीं है। अगर दाल ऊपर तैरती है तो इसका मतलब है कि दाल अच्छी फेंटी(मिला) होगा अगर नहीं तैरती है तो इसे और फेंट लीजिए। दाल जितनी फेंटी होगी वड़ा उतना ही स्पंजी और स्वादिष्ट बनेगा। पेस्ट में  पिसा हुआ गोलकी -जीरा, बारीक़ कटा हरा धनिया मिला ले दही को हल्का पानी डालकर अच्छी तरह से मिला ले इसमें भुना जीरा एक चम्मच . भुना लालमिर्च पाउडर आधा चम्मच . कला नामक आधा चम्मच, एक चम्मच चीनी डालकर सभी सामग्री मिला कड़ाई को गर्म करे और तेल डाल डाले अब पेस्ट को गोला गोला कर के तले एक बड़ी कटोरी में पानी रखे तले हुए वडे को पहले पानी में डाले ताकि एक्स्ट्रा तेल निकाल जाये फिर हल्की हाथो से दबाकर पानी निकाल ले तैयार वडे को दही में भिगोये उसके उपर बारीक़ कटा हरा धनिया, भुना जीरा, लालमिर्च पाउडर डाले उसके उपर लाल मीठी चटनी डाले चटपटी , अस्पोंजी दही वडे तैयार है|

Source : https://www.biharirecipes.com/recipes/dahi-vada-recipe-in-hindi/

Facebook Comments

Related Articles

Close